सुंन्दरता और प्रणाली
निश्चित रूप से यह संसार सुन्दरता और प्रणाली कि निशानी है, और असंभव है कि इस संसार कि इत्तेफाख से सृष्टि हुई हो, परन्तु यह एक बुद्धिमान कि निर्माण किया हुआ है जिसने भलाई की आशा की है और हर विषय को अपनी बुद्धिमत्ता और इरादे से व्यवस्थित की है ।

Subscribe