सच्ची एकीकरण (तौहीद)
अरबी रसूल मुहम्मद (स) ने प्रेरणादायक आवाज़ से अपने ईश्वर के साथ गहरा संबंध रखने की ओर बुलाया। मूर्ती पूजा करनेवालों, ईसाइयत और यहूदियत के मानने वालों को सच्ची एकीकरण सिध्दांत की ओर बुलाया। आप इस बात पर सहमत थे कि वह मानव प्रतिक्रियावादी प्रवृत्तियाँ जो मानव को प्रजापति ईश्वर के साथ और अन्य ईश्वर पर विश्वास रखने कि ओर बुलाते हैं। ऐसे प्रवृत्तियों के साथ खुला संघर्ष करने पर आप सहमत थे।

Subscribe