यह ईशवर का ग्रंथ है
मुझे एक क्षण के लिए भी मुहम्मद (स) के संदेश में कोई संदेह नही होता है, और मेरा यह विश्वास है कि आप सारे नबी और रसूलों के अंत में आने वाले हैं, आपको सारे मानवता के लिए रसूल बनाकर भेजा गया है, और तौरात, बैबल के रूप में आनेवाले देवत्व ग्रंथों के अंत में आनेवाला आपका संदेश है। इसका सबसे बडा सबूत चमत्कारी ख़ुरआन है। मैं यूरोपियन वैज्ञानिक और इस्लाम धर्म के शत्रु बिस्काल के सारे विचारों का तिरस्कार करता हूँ, परंतु उसके एक विचार के साथ में सहमत हूँ। वह यह है कि ख़ुरआन लेखक मुहम्मद (स) नही है, जिस प्रकार के बैबल के लेखक मत्ता नही है ।

Related Posts


Subscribe