जीवन और भविष्य जीवन का र्धम
ज्ञानी मानव प्रक्रुतिक रूप से इस्लाम कि ओर अपने भीतर खीँचाओ पाता है, क्यों कि इस्लाम हि वो र्धम है जो जीवन और भविष्य जीवन कि ओर एक ही निगाह से देखता है ।

Subscribe