क्यों नही

क्यों नही
जब इस्लाम यही है, तो क्यों नही हम सब मुस्लिम बन जाते ।

Tags: