img_alt6

आरनाल्ड व्टेन बी

quotes:
  • धर्म ही जीवन है
  • मनुष्य के लिए धर्म एक प्राकृतिक आवश्यक मानव वैधता है। और हमारे लिए ये बताना पर्याप्त होगा कि मानव को धर्म की आवश्यकता आध्यात्मिक निराशा कि ओर ले जाता है। जिसके कारण मनुष्य ऐसी जगह धार्मिक सुकून प्राप्त करने का प्रयास करता है। जहाँ से उसे कुछ भी प्राप्त नही होता।


  • मानवता के गुरू
  • मैंने रसूले अरबी की जीवन शैली उनके अनुयायीओं के बुद्धियों से प्राप्त किया, आपका व्यक्तित्व इन बुद्धिमानों के भीतर बहुत महान है। परंतु यह लोग ने आपके संदेश पर इस प्रकार से विश्वास रखते हैं जो उन्हे आपकी ओर आनेवाले देवत्व आदेश का पालन करने पर मजबूर करता है। इसी प्रकार से आपके कार्य (जैसा कि हदीस में बताया गया) नियमों का नीव है। यह केवल मुसलमानों के जीवन के अनुशास के लिए ही नही, बल्की मुसलमान विजेता के ग़ैर मुस्लिम प्रजा के साथ संबन्धों के अनुशासन पर भी आधारित है।


  • मुहम्मद के ईश देवत्व का संदेश
  • मुहम्मद ने अपने सारे जीवन को अरब समाज में अपने संदेश के दो पक्षों को उपयुक्त बनाने में लगा दिया। वह दो पक्ष यह हैः धार्मिक विचारों में समानता और शासन के नियम और विधी में समान्ता। निश्चय इस्लाम धर्म के संपूर्ण नियमों के कारण यह दो चिज़ें उपयुक्त हो गई, क्योंकि इस्लाम अपने अंदर एक ही समय में एकता और प्राधिकरण का अधिकार रखता है। इसी कारण इस्लाम के भीतर ऐसी शक्तिशाली प्रेरणा पैदा हो गई, जिसने एक अज्ञानी समुदाय को सभ्य समुदाय बनादिया ।


  • पराजित का अपने विजेता को बन्धी बनाना
  • प्राजित इस्लाम ने ईसाइयों के विरुध धार्मिक युध्द में अपने विजेता को बन्धी बनालिया । ईसाई संसार के जीवन में सभ्यता की कलायें डाल दी। निश्चय पश्चीमी जीवन में इस्पात भर गया था, और मध्य युग में ईसाई संसार के भीतर कुछ मानवीय गतीविध्यों के छात्रों जैसे इंजीनियरिंग में इस्लामिक प्रभाव सार्वजनिक था। सिसीली और इस्पेन में प्राचीन अरबिक साम्राज्य से अधिक पश्चिम आधुनिक शासन प्रभावित था ।



Related Posts


Subscribe